BITS और उसकी कुछ ख़ास बातें

वाह री बिट्स !!!

चिलचिलाती धूप …उड़ती रेत…पानी की मार..
यह नज़ारा था कुछ 1 घंटे पहले का..(11a.m. 26 अप्रैल)
लेकिन इस रौद्र धूप को चुनौती देते हुए कुछ 20 आलसी प्राणी
Med-C की और जाते दिखाई दिए..
ऐसा प्रतीत हो रहा मानों इनमें से सब के सब बिल्कुल ही
बेरोजगार बैठे हों…अलग बात यह है की sem end exams
(Compre) अब मात्र 2 ही दिन की दूरी पर है..
वाह BITSian आपकी जय हो…जय हो….

हाँ तो वाक्या कुछ ऐसा है की Inter-Bhawan(Hostel) क्रिकेट
मैच के Finals आज थे…हमारे खेल सचिव(Sports Sec) को इसके
लिए बहुत-बहुत धन्यवाद, वैसे भी मैं आलसी शब्द का प्रयोग दूसरी बार
प्रयोग करना उचित नहीं समझता |

खैर जो भी हो खेल में एक ऐसा पल नहीं था जब ऐसा ना लग रहा हो कि,
अब गिरे, तब गिरे..आख़िर सिर्फ़ 8 नंबरों को लिए niteout मारना भी तो
BITSian ज़िन्दगी का एक हिस्सा ही है..जय हो जय हो….
यह मानता हूँ कि खेल का अंजाम हमारे ‘Court’ में नहीं रहा पर इस बात
से तो हम संतुष्ट हैं कि हमने उन्हें कांटे कि टक्कर तो ज़रूर दी..

एक बात जो मैं समझता हूँ BITS को और दूसरे कॉलेजों से अलग करता है,
वह यह है कि यहाँ पर मानसिक सहनशक्ति को साथ-साथ आपको शारीरिक
शक्ति में भी निपुणता हासिल करने का पूरा मौका दिया जाता है और वो भी मुफ्त में.
अब जहाँ 1 ही sem में तापमान शुन्य से 50 पहुँचने में देर ना लगती हो, तो हो गई
ना आपकी ‘Physical Exercise’?

तभी तो कहते हैं – BITS – “रेगिस्तान में फव्वारा” ||

Advertisements
Standard

ज़रा टिपियाइये

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s